November 21, 2016

कैश की कमी से बदला शादियों का रंग,फिजूल ख़र्च से मिला छुटकारा

नोट बंदी ऐसे समय हुई जब शादी-विवाह का  मौसम चल रहा था। शादी के मौसम देखते हुए शादी वाले परिवारों की  राहत के लिए  एक बार में ढाई लाख रुपये तक बैंक से निकलने की सुविधा सरकार द्वारा दी गई थी किन्तु रिजर्व बैंक द्वारा इस प्रकिया में लगाई  शर्तों से पैसा निकालने में लोगों को बहुत कठनाई का सामना करना पड़ रहा है। शादी के लिए   ढाई लाख रुपये  ड्रा करने के लिए प्रूफ के रूप में  शादी का कार्ड, विवाह भवन और कैटरिंग सेवा की बुकिंग के  अग्रिम भुगतान की प्रति प्रस्तुत करने  होगी। बैंकों में नकदी के आभाव के कारण निकासी पर कण्ट्रोल करने के लिए  कुछ पाबंदी लगाई गई हैं। रुपयों का ड्रा  माता-पिता या वह व्यक्ति कर  सकता है जिसकी शादी होने जा रही है।