November 1, 2016

आगरा सिविल एन्‍कलेव की जमीन को तत्‍काल 64 करोड अवमुक्त हों

-- विधायक तक अनभिज्ञ रखे गये है इंटरनेशन एयरपोर्ट के 'एम ओ यू' से

आगरा सिविल एन्‍कलेव कमैटी के वाइस चेयरमैन विधायक
 दुवेश ने अनिल 
शर्मा से की विस्‍तार से चर्चा
आगरा, ताज इंटरनेशनल एयरपोर्ट भले ही आगरा में नहीं बनवाया जा सका हो किन्‍तु नये सिविल एन्‍कलेव को बनावाये जाने के लिये तो राज्‍य सरकार द्वारा जमीन उपलब्‍ध करवाही दी जानी चाहिये। यह कहना है आगरा सिविल एन्‍कलेव के लिये बनी एडवाइजरी कमेंटी के वाइस चेयरमैन एव छावनी क्षेत्र के विधायक गुटियारी लाल दुबेश का । श्री दुबेश जो कि अपने निवास पर
ताज इंटरनेशनल एयरपोर्ट आगरा डिजर्ब्‍स इट मूवमेंट के कार्डीनेटर अनिल शर्मा से वार्ता कर रहे थे ने कहा आगरा में शू इंडस्‍ट्री के अलावा टूरिजम इंडस्‍ट्रीज ही जनजीवन का आर्थिक आधार है । राज्‍य सरकार को इस हकीकत को समझना चाहिये खासकर जबकि मुख्‍यमंत्री स्‍वयं एयरपोर्ट के लिये वायदा किये हुए हैं। श्री दुवेश ने कहा कि वह पता करेंगे कि राज्‍य सरकार अब तक 55 एकड में से अवशेष रह गयी जमीन के अधिग्रहण के लिये 64 करोड की राशि क्‍यों नहीं अवमुक्‍त कर रही  है। श्री अनिल शर्मा ने कहा कि 2014 को इंटरनेशनल एयरपोर्ट के लिये एम ओ यू का क्रियान्‍वयन प्रदेश की सपा सरकार अब तक क्‍यों नहीं करवा सकी है, इसे भी जानने की आगरा की सिविल सोसायटी में खास दिलचस्‍पी है। इतने महत्‍वपूर्ण एग्रीमेंट को सपा सरकार अब तक 4 साल छह महीने के अपने कार्यकाल में विधान सभा में क्‍यों नहीं रख पायी इसे भी आगरा से चुनकर लखनऊ पहुंचे विधायकों को पता लगाना चाहिये।