June 4, 2015

पर्यावरण दिवस : यमुना को बचाने के लिए जनता की भी जिम्मेदारी

आगरा। यमुना व् अन्य प्राकृतिक संसाधनों के संरक्षण के लिए सरकार के साथ आम जनता को भी भागीदारी निभानी चाहिए। आगरा  शहर हमारा है, इसको विकसित करने के लिए सभी नागरिक सहयोग करें। यह बात आज सांय यमुना आरती करने के बाद आगरा मण्डलायुक्त की पत्नी संगीता भटनागर  ने एतमाउददौला व्यू पॉइंट पार्क पर आयोजित गोष्ठी में कही.रिवर कनेक्ट अभियान के तहत आज यमुना मैय्या की विशेष आरती में शहर के अनेक समाजसेवी और एक्टिविस्ट्स शामिल हुए. डॉ देवाशीष भट्टाचार्य ने यमुना नदी की दुर्दशा के लिए शहरवासियों की बेरुखी को जिम्मेदार माना. डॉ आनंद राय, इंडिया राइजिंग , ने शहर वासियों से अपील की यमुना में कूड़ा करकट न डालें. प्रदीप खण्डेलवाल ईको क्लब ने कहा की सरकारी सहायता के भरोसे न रहकर खुद अपने साधनों से सामाजिक कार्यों को आगे बढ़ाया जाये...


ब्रज खण्डेलवाल ने बताया एक अप्रैल से निरंतर, रिवर कनेक्ट अभियान के तहत, यमुना आरती कार्यक्रम जारी है, और लोगों का काफी सहयोग भी मिलने लगा है. आज जरूरत है की शहरवासी यमुना घाटों पर दोबारा आएं और नदी को बचाने के उपायों में भागीदारी निभाएं.

आरती से पूर्व लोक संगीत गायक ब्रजेश बघेल ने यमुना गीत गाकर लोगों में जोश भरा.
आज सर्वश्री शैलेन्द्र सिंह, रंजन शर्मा, राधेय श्रोत्रिय, ज्योति खण्डेलवाल, विशाल झ, हेमंत गौड़,  पद्मिनी ऐय्यर, अमर अवस्थी, शशि श्रोत्रिय आदि उपस्थ्तित रहे.
श्री मथुराधीश जी मंदिर के महंत गोस्वामी नंदन श्रोत्रिय और जुगल किशोरी ने विधि विधान से यमुना आरती कराई.