June 3, 2015

कानपुर के ग्रीन पार्क स्टेडि‍यम में अगले बीस साल तक होते रहेंगे टैस्ट मैच

--लखनऊ में भी इंटरनेशनल क्रि‍केट स्‍टेडि‍यम को बनाये जाने का मार्ग हुआ प्रशस्‍त

--जे पी के साथ भी पहले से ही इंटरनेशनल मैचों के लि‍ये 7 नवम्‍बर . 2009 में कि‍या हुआ है एग्रीमेंट 

आगरा, उत्‍तर प्रदेश में राज्‍य सरकार ने उत्‍तर प्रदेश क्रि‍केट एसोसि‍येशन के साथ इंटरनेशनल मानकों का स्‍पोर्ट स्‍टेडि‍यम लखनऊ में बनाये जाने का प्रस्‍ताव स्‍वीकार कर लि‍या ।मुख्‍यमंत्री अखि‍लेश यादव ने अपने आवास पर एक औपचारि‍क कार्यक्रम में ग्रीन पार्क स्टेडियम कानपुर में इंटरनेशनल मैच कराने के लि‍ये यू पी क्रि‍केट एसोसि‍येशन को अधि‍कार देने सम्‍बन्‍धी अनुबंध कि‍या जबकि‍ दूसरा करार लखनऊ में अंतरराष्ट्रीय स्तर का स्टेडियम बना रही इकाना स्पोर्ट्स सिटी और यूपीसीए के मध्य हुआ।
ग्रीन पार्क सम्‍बन्‍धी करार तो रज्‍य सरकार के खेल वि‍भाग के साथ है ,जबकि‍ इकराना काम्‍पलैकस के साथ हुआ करार यू पी सी ए का कार्पोरेट सैक्‍टर की कि‍सी कंपनी के हुआ दूसरा करार है।यू पी सी एक के द्वारा पूर्व में जेपी स्‍पार्टस्‍ के साथ पचास साल का अनुबंध कि‍या हुआ...
है।यू पी सी ए के सैकेट्री राजीव शुक्‍ला के द्वारा कि‍ये अनुबंध के फलस्‍वरूप पचास साल तक इंअरनेशनल मैच जेपी कांप्‍लैक्‍स में बने इंटरनेशनल स्‍पार्टस स्‍टेडि‍यम में होंगे। जाक ि‍ वर्तामान में उत्‍ततर प्रदेश का सबसे अधि‍क क्षमता का स्‍टेडि‍यम है।
  मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि आने वाले समय में सबसे बेहतर खेल सुविधाएं उत्तर प्रदेश में होंगी। सैफई के साथ लखनऊ में भी अंतरराष्ट्रीय स्तर का स्वीमिंग पूल बनेगा। कानपुर और लखनऊ में हर फार्मेट के इंटरनेशनल क्रिकेट मैच हो सकेंगे।
मुख्‍यमंत्री ने कहा कि‍  अंतरराष्ट्रीय मैचों के लिए एमओयू में लखनऊ को भी शामिल किया गया है। केडी सिंह बाबू स्टेडियम में पहले कुछ मैच हुए हैं लेकिन यह स्टेडियम इंटरनेशनल स्टैंडर्ड को पूरा नहीं कर पाता।लखनऊ में बनने वाला स्टेडियम स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स होगा। इसमें तमाम खेलों के लिए सुविधाएं होंगी। इससे खेलों को बढ़ावा और खिलाड़ियों को प्रोत्साहन मिलेगा। उन्होंने इंटरनेशनल स्टेडियम बना रहे निजी विकासकर्ता से अपेक्षा जताई कि वह  विधानसभा चुनाव से पहले निर्माण पूरा कर लेंगे।यूपी क्रिकेट एसोसिएशन के सचिव और बीसीसीआई के उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला ने कहा कि प्रदेश में खेलों का इन्फ्रास्ट्रक्चर विकसित करने के 30 साल के प्रयास अब शक्ल ले रहे हैं।

ग्रीन पार्क को लेकर प्रदेश सरकार से एमओयू की 20 साल से कोशिश चल रही थी। आईसीसी के मानकों के अनुसार प्रदेश में एक भी स्टेडियम नहीं है। उन्होंने सीएम अखिलेश के समक्ष ग्रीन पार्क के एमओयू का प्रस्ताव रखा था।

नये एग्रीमेंट के हो जाने के बाद गाजि‍याबाद में इंटरनेशनल क्रि‍केट ऐसोसि‍येशन बनाये जाने की कोशि‍श एक दम बल हीन हो गयी है।इसी प्रकार आगरा में भी इंटरनेशनल क्रि‍केट स्‍टेडि‍यम बनाये जाने का मामला तो पूरी तरह से ढंडे बस्‍ते में ही चला गया है।