May 26, 2015

गंगा जमुनी तहजीब को समर्पि‍त ‘इप्टा’ स्थापना के 73 साल हुए

-- जन संस्कृति दिवस’ दि‍वस पर आगरा में भी हुआ आयोजन

--लि‍टि‍ल इप्‍टा कैंप के बाल रंगधर्मि‍यों ने प्रस्‍तुत कि‍ये कार्यक्रम

(इप्‍टा के स्‍थापना दि‍वस पर लि‍टि‍ल इप्‍टा के समर कैंप में हुयी
रंगरंग प्रस्‍तुति‍यां )
आगरा,इप्‍टा की स्‍थापना 25मई 1943 को हुई थी ,जो कि‍ आने वाले समय में देश का अत्‍यंत प्रभावशाली थि‍येटर मूवमेंट साबि‍त हुआ।कॉलोनि‍यल साम्रज्‍यवाद से मुक्‍ति‍ पाना जि‍समें इसकी एक अहम भूमि‍का रही।इसके माध्‍यम से आम आदमी तक राष्‍टब्‍्रीय हि‍तों और अंतर्राष्‍ट्रीय सोच के प्रति‍ समझ वि‍कासि‍त हुई । जात पात और मजहबी लक्ष्‍मण रेखाओं को तोडने को जनमानस को बौद्धक रूप से परपक्‍व करने में इसके सदस्‍यों की जो भूमि‍का रही इति‍हास उसका साक्षी है।इप्‍टा जब शुरू हुआ तब भी मूवमेंट एवं जनसंवाद का सशक्‍त माध्‍यम था जबकि‍ जब कि‍ देश मनोरंजन,संदेश प्रद कार्यक्रमों के सशक्‍त माध्‍यमों से संपन्‍न है तब भी इसकी अपनी अलग
पहचान है।
 देश में कई स्‍थानों पर इस अवसर को ‘जन संस्कृति दिवस’ के रूप में  आयोजनों के साथ मनाया गया। आगरा में ‘यूनिवर्सिटी मॉडल स्कूल’ में आयोजित किये गए जन संस्कृति दिवस की शुरुआत इप्टा के महासचिव रहे डॉ जितेन्द्र रघुवंशी जी के चित्रपर माल्यार्पण कर हुई उसके बाद जन गीत आओ कलाकार और जितेन्द्र रघुवंशी द्वरा रचित अभी तो मंजिल बाकी है गाया गया टाइनी ग्रुप ने कौन बोला, कविता दिलीप रघुवंशी के निर्देशन में प्रस्तुत की , इसके बाद किशोरी वर्ग ने कत्थक की तत्कार और थाप के साथ श्रीमती ज्योति खंडेलवाल के निर्देशन में प्रस्तुति दी . किशोर वर्ग के बालकों ने विशाल रियाज़ के निर्देशन में शरद बिल्लोरे की कविता तय तो यही हुआ था की भाव पूर्ण प्रस्तुति दी
कवि अवतार सिंह पाश की कविता  सबसे खतरनाक होता है सपनों का मर जाना की प्रस्तुति इप्टा के युवा कलाकारों ने प्रभावी ढंग से मंचित की, इसके पश्चात ग्रीष्मकालीन शिविर के संरक्षक सुरेश चन्द्र गुप्ता व एम् एल गुप्ता ने अपनी शुभकामनाएं प्रेषित की और बाल रंगमंच के लिए स्थाई जगह उपलब्ध कराने के लिए आश्वासन दिया इस अवसर पर शिविर के समन्वयक दिलीप रघुवंशी ने आज के दौर में इप्टा की भूमिका पर प्रकाश डाला व सह संयोजक डॉ विजय शर्मा ने जन सन्देश का पाठ किया और बताया कि आज ये जन संस्कृति दिवस पूरे भारत में इप्टा की बिभिन्न इकाइयों द्वारा मनाया जा रहा है . यूनिवर्सिटी मॉडल स्कूल की प्रधानाचार्या सीमा अनवर ने स्कूल को शिविर के लिए चुने जाने पर हर्ष जताया. लिटिल इप्टा शिविर के संयोजक सुबोध गोयल जी ने धन्यवाद ज्ञापन किया और सञ्चालन मुख्य निर्देशिका डॉ ज्योत्स्ना रघुवंशी ने किया।
इस अवसर पर आगरा इप्टा की उपाध्यक्ष भावना जितेन्द्र रघुवंशी ने बच्चों को शुभकामनायें दीं , कार्यक्रम की निर्देशकों की टीम में सुनीता धाकड़ , नीतू दीक्षित , रक्षा गोयल प्रभजोत रघुवंशी विशाल रियाज़ उपस्थित मानस रघुवंशी सिद्धार्थ रघुवंशी ,आदि ने इप्टा के राष्ट्रीय महासचिव के चित्र पर पुष्प अर्पित किये उपस्थित  गणमान्य लोगों ने  डॉ शशि तिवारी , रमेश शर्मा , प्रमोद राणा ,मुक्ति किंकर कुमकुम रघुवंशी महेश धाकड़ आदि इप्टा के स्थापना दिवस पर बधाइयाँ दी और विचार प्रकट किये ।