May 15, 2015

चीन की इक्कीस कंपनि‍यों से 22 बिलियन अमेरिकी डॉलर के करार

--भारत 500शहरों में मैट्रो रेल चलायेगा,इंडस्‍ट्रि‍यल कॉरीडोर बनाये जा रहे हैं

--मंगोलि‍या रवाना होने से पूर्व चीनी कंपनि‍यों के अधि‍कारि‍यों से कहा भारत में नि‍वेश से दोनों देशों का फायदा


नई दि‍ल्‍ली: प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने भारत वीन के बीच वयापारि‍क सहयोग को देानों ही देशों के 

(चीनी कंपनि‍यों के अधि‍कारि‍यो से पीएम
नरेन्‍द्र मोदी ने की मुलाकात)

लि‍ये उपयोगी बताया है,वह चीन के तीन दि‍वसीय दौरे के अंति‍म चरण में ‘भारत चीन बि‍जनि‍स फोरम ‘ के बैनर तले  को चीनी कंपनियों के सीईओ को सम्‍बोधि‍त कर रहे थे। शंघाई में हुए इस कार्यक्रम में  चीनी  कंपनी अली बाबा के मालिक जैक मा सहि‍त  21 अन्‍य शीर्षकंपनियों के अधि‍कारी  मौजूद थे। इस मुलाकात के दौरान दोनों देशों की कंपनियों के बीच 22 बिलियन अमेरिकी डॉलर का करार हुआ।
श्री मोदी चीनी कंपनियों के प्रति‍नि‍धि‍यों  को भारत में शुरू कि‍ये जा चुके 'मेक इन इंडिया' मि‍शन के लक्ष्‍यों की
जानकारी दी।  बाद में कारोबारियों के साथ सीधी मुलाकात के दौरान मोदी ने उन्हें भारत में निवेश के लिए आमंत्रित किया। इंडस्ट्रियल कॉरीडोर और स्मार्ट सिटीज की योजना पर काम कर रहे हैं। उन्‍हों ने यह भी कहा कि‍  भारत 500 शहरों में मेट्रो चलने की योजना बना रहा है. इसके साथ ही रेलवे के विस्तार की भी महत्‍वकांक्षी योजना बनायी हुई है।
प्रधानमंत्री आज शंघाई में है। पीएम शनि‍वार को ही चीन से मंगोलिया के लिए रवाना हो जायेंगे।